एयर इंडिया भविष्य निधि न्यासों की प्रतिभूतियों को बेचने को लेनदेन सलाहकार नियुक्त करेगी – air india to appoint transaction advisor to sell securities of provident fund trusts

नयी दिल्ली, छह अक्टूबर (भाषा) राष्ट्रीय विमानन कंपनी एयर इंडिया अपने दो भविष्य निधि न्यासों एआईईपीएफ और आईएईपीएफ की प्रतिभूतियों को बेचने पर विचार कर रही है। कंपनी ने प्रतिभूतियों की प्रस्तावित बिक्री में मदद के लिए लेनदेन सलाहकारों के लिए आवेदन मांगा है। उल्लेखनीय है कि सरकार एयर इंडिया का विनिवेश करने जा रही है।

एयर इंडिया कर्मचारी भविष्य निधि (एआईईपीएफ) ट्रस्ट और इंडियन एयरलाइंस कर्मचारी भविष्य निधि (आईएईपीएफ) ट्रस्ट दरअसल भविष्य निधि ट्रस्ट अधिनियम, 1925 के तहत आते है।

निविदा दस्तावेज के अनुसार 31 अगस्त, 2021 तक दोनों ट्रस्टों का निवेश कुल मिलाकर 4,500 करोड़ रुपये था। इसी को लेकर कंपनी ने लेनदेन सलाहकारों की नियुक्ति के प्रस्ताव का अनुरोध (आरपीएफ) किया है।

एआईईपीएफ ट्रस्ट के कोष में से 68.75 प्रतिशत केंद्र और राज्य सरकार के बॉन्ड में निवेश किया गया था। इसके अलावा कॉरपोरेट बॉन्ड में 22.40 फीसदी और एसडीएस (विशेष जमा योजना) में 8.85 फीसदी जमा किया गया था।

लेनदेन सलाहकारों की नियुक्ति के लिए आरएफपी जमा करने की अंतिम तिथि 18 अक्टूबर है। प्रतिभूतियों की बिक्री को लेकर अपनाई जाने वाली प्रक्रिया के लिए लेनदेन सलाहकार पीएफ ट्रस्टों का मार्गदर्शन करेंगे।

उल्लेखनीय है कि एयर इंडिया का विनिवेश प्रक्रिया अंतिम चरणों में है और सरकार जल्द ही वित्तीय बोलीदाता जीतने वाली कंपनी की घोषणा कर सकती है।

सरकार एयर इंडिया में अपनी 100 फीसदी हिस्सेदारी के साथ-साथ एआई एक्सप्रेस लिमिटेड में एयरलाइन की पूरी हिस्सेदारी तथा एयर इंडिया एसएटीएस एयरपोर्ट सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड में 50 फीसदी हिस्सेदारी बेचेगी।