मनु भाकर ने जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में पूरी की टोक्यो ओलिंपिक की कसर, 4 गोल्ड समेत जीते 5 मेडल | Junior World Champioship Manu Bhaker bags fourth gold in 25m pistol team event

मनु भाकर ने जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में पूरी की टोक्यो ओलिंपिक की कसर, 4 गोल्ड समेत जीते 5 मेडल

मनु भाकर टोक्यो ओलिंपिक से खाली हाथ वापस आईं थी

टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympic) में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद अब मनु भाकर (Manu Bhaker) गोल्ड की लाइन लगाकर उसकी भरपाई करने की कोशिश में लगी हुई हैं.  आईएसएसएफ जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप (ISSF Jr. World Championship) में मनु अब तक पांच मेडल जीत चुकी हैं जिसमें से चार गोल्ड हैं. इवेंट का चौथा गोल्ड उन्होंने 25 मीटर पिस्टल टीम इवेंट में जीता. इस इवेंट में उनके साथ रिदम सांगवान और नामया कपूर थीं जो इस समय शानदार फॉर्म में है. भारतीय टीम ने स्वर्ण पदक के मुकाबले में अमेरिका को 16-4 से हराया . देश को 20वां पदक पुरूष ट्रैप टीम स्पर्धा में मिला जिसमें भारतीयों को फाइनल में इटली से 4-6 से हार के बाद रजत पदक से संतोष करना पड़ा.

बख्तयारूद्दीन मालेक, शार्दुल विहान और विवान कपूर की जोड़ी ने क्वालीफिकेशन में सात टीमों में दूसरे स्थान पर रहकर फाइनल के लिये क्वालीफाई किया था. जिसमें उन्होंने 525 में से 473 अंक जुटाये थे. इटली ने क्वालिफिकेशन में 486 के स्कोर से शीर्ष पर रहकर क्वालीफाई किया था. वहीं 14 वर्ष की कपूर का यह दूसरा गोल्ड है. उसने 25 मीटर पिस्टल व्यक्तिगत वर्ग में भी गोल्ड जीता था. भारत ने पुरुषों की 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल में रजत जीता जब आदर्श सिंह अमेरिका के हेनरी टर्नर लेवेरेट से फाइनल में हार गए.

भारत अंकतालिका में टॉप पर

भारत अब तक नौ गोल्ड, आठ सिल्वर और तीन ब्रॉन्ज जीतकर अंकतालिका में शीर्ष पर है. अमेरिका छह गोल्ड और कुल 19 पदक के साथ दूसरे स्थान पर है. मनु, रिदम और कपूर के लिये मुकाबला आसान रहा. उन्होंने जल्दी ही 10.4 की बढत बना ली और रैपिड फायर शॉट्स के बाद यह बढत 16.4 की हो गई. क्वालीफिकेशन में भी भारतीय टीम 878 स्कोर करके शीर्ष पर रही थी. दूसरे दौर में भी अव्वल रहकर उन्होंने गोल्ड मेडल के मुकाबले में जगह बनाई.

पुरुष निशानेबाजों ने किया निराश

पुरुषों की 25 मीटर रैपिड फायर में छह खिलाड़ियों में तीन भारतीय थे. आदर्श सिंह के अलावा जुड़वा भाई उदयवीर और विजयवीर सिद्धू ने भी फाइनल में जगह बनाई थी. क्वालीफिकेशन में उदयवीर 577 स्कोर करके चौथे स्थान पर रहे थे जबकि आदर्श 574 स्कोर के साथ पांचवें स्थान पर थे. विजयवीर 572 स्कोर करके छठे स्थान पर रहे. फाइनल में हालांकि विजयवीर और उदयवीर सबसे पहले बाहर हुए. आदर्श ने पहली दो सीरिज में परफेक्ट 10 स्कोर किया. इसके बाद अमेरिका के टर्नर ने दबदबा बनाया और 40 में से 32 निशाने सटीक लगाकर स्वर्ण जीता. आदर्श ने 28 के साथ रजत हासिल किया. वहीं 50 मीटर राइफल प्रोन मिश्रित टीम स्पर्धा में भारत के सूर्यप्रताप सिंह और सिफ्त कौर सामरा दूसरे क्वालीफिकेशन दौर से बाहर हो गए. आशी चौकसे और संस्कार हवेलिया पहले दौर में नौवे स्थान पर रहे.

IPL 2021: एमएस धोनी अब चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए नहीं खेलेंगे? मैच शुरू होने से पहले कही मन की बात