Bhopal Arts And Culture News Listeners were thrilled with the high pitch of Alha singing

Publish Date: | Wed, 08 Sep 2021 07:57 AM (IST)

Bhopal Arts And Culture News: भोपाल (नवदुनिया रिपोर्टर)। मप्र शासन के संस्‍कृति विभाग की बहुविध कलानुशासन संबंधी गतिविधियों पर एकाग्र ‘गमक’ श्रृंखला के अंतर्गत मंगलवार की शाम जनजातीय लोक कला एवं बोली विकास अकादमी की ओर से सागर के प्रभु सिंह और साथियों द्वारा आल्हा गायन की प्रस्‍तुति दी गई। इसके अलावा डिंडोरी के दिलीप कुमार रठुरिया एवं साथियों द्वारा बैगा जनजातीय नृत्य पेश किया गया।

कार्यक्रम के तहत प्रथम प्रस्‍तुति में प्रभु सिंह और साथियों ने वीर रस से भरपूर आल्हा गायन में माड़ो गढ़ की लड़ाई का सुरमयी अंदाज में बखान किया। उन्होंने बताया कि इस लड़ाई में बुंदेली वीर आल्हा और ऊंदल ने अपने पिता की मृत्यु का बदला लिया था। जगनेर के राजा जगनिक ने आल्हा खंड काव्य में इन वीरों की 52 लड़ाइयों की गाथा को दर्शाया है। इस प्रस्तुति में गायन में प्रभु सिंह, ढोलक पर मधु प्रजापति, सिंथेसाइजर पर गब्बर रजक, मंजीरे पर रामलाल पटेल, अमान सिंह एवं झूला गायन में कृष्ण कुमार ने संगत की। इसे सुनकर ऑनलाइन श्रोता रोमांचित हुए बगैर नहीं रह सके और उन्‍होंने इसे खूब सराहा।

इसके बाद डिंडोरी के दिलीप कुमार रठुरिया और साथियों ने करमा और फाग नृत्य पेश किया। बैगा समुदाय में अच्‍छी फसल देवताओं के आगमन का प्रतीक है और कर्म फल मिलने का उदाहरण भी। कर्म पूजा व नृत्य ही करमा नृत्य को पूर्ण करता है। यह नृत्य क्वार माह में किया जाता है। अगली कड़ी में कलाकारों द्वारा होली के अवसर पर किए जाने वाले फाग नृत्य की प्रस्तुति दी गई। इसमें करीब 12 कलाकारों ने नृत्य प्रस्तुति दी। बैगा जनजातीय नृत्‍यों की इन प्रस्‍तुतियों ने भी ऑनलाइन दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया

गमक में आज : गमक श्रृंखला के अंतर्गत बुधवार को शाम सात बजे से उस्ताद अलाउद्दीन खां संगीत एवं कला अकादमी की ओर से ग्वालियर के सलमान खान और साथियों द्वारा सारंगी वादन, देवास के प्रफुल्ल सिंह गहलोत, अनुष्का जोशी, कृतिका बिजना एवं साथियों द्वारा कथक त्रेयी की प्रस्तुति दी जाएगी। इसका प्रसारण संस्‍कृति विभाग के यूट्यूब चैनल और फेसबुक पेज पर लाइव किया जाएगा।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local