Car Accident In Kinnaur Father And Daughter Died – काफनू-वांगतू मार्ग पर खड्ड में समाई कार, पिता-पुत्री की मौत

किन्नौर के काफनू-वांगतू मार्ग पर खड्ड में समाई कार
– फोटो : RAMPUR-HP

ख़बर सुनें

भावानगर (किन्नौर)। जनजातीय जिला किन्नौर की भावावैली को जोड़ने वाले काफनू-वांगतू संपर्क मार्ग पर एक कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। हादसे में पिता और पुत्री की मौत हो गई। हादसा इतना भयावह था कि कार सड़क से सीधे नीचे भावा खड्ड में समा गई। हादसे में पिता और पुत्री ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।
जानकारी के अनुसार हादसा शनिवार सुबह करीब 6:30 बजे काफनू-वांगतू संपर्क मार्ग पर तिझपती के पास उस समय हुआ जब दोनों मंडी जिला के सुंदरनगर से अपने घर जा रहे थे। इसी बीच कार अनियंत्रित होकर भावा खड्ड में समा गई। हादसे में कार में सवार शांगो निवासी श्याम सिंह और उनकी बेटी कामिनी अकाल मौत का ग्रास बन गए।
हादसे की सूचना मिलते ही एसएचओ भावानगर राजेंद्र तनवर और चौकी प्रभारी कटगांव श्याम चंद टीम के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस, होमगार्ड जवान और स्थानीय लोगों ने कड़ी मशक्कत के बाद खड्ड से शवों को निकाला। दोनों शवों का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया गया है। एसएचओ भावानगर राजेंद्र तनवर ने बताया कि पुलिस को हादसे की सूचना 1200 नंबर पर मिली थी। पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्जकर हादसे के कारणों की छानबीन शुरू कर दी है।
घर से तीन किलोमीटर दूरी पर हुआ हादसा
शनिवार सुबह पेश आए हादसे ने परिवार को उम्र भर के लिए गहरे जख्म दे दिए हैं। बताया जा रहा है कि दोनों सुंदरनगर से किन्नौर जिले के शांगो अपने गांव के लिए लौट रहे थे। मगर दोनों गांव से मात्र तीन किलोमीटर पीछे हादसे का शिकार हो गए। उन्हें क्या मालूम था कि घर से कुछ दूरी पर ही मौत उनका इंतजार कर रही है। हादसे की सूचना मिलते ही शांगो गांव गमगीन हो गया। यहां के लोगों के चेहरे पर श्याम और उनकी बेटी कामिनी के सड़क हादसे में जान गंवाने का दर्द साफ तौर पर दिखाई दे रहा है। क्षेत्र में मातम का माहौल बना हुआ है।

भावानगर (किन्नौर)। जनजातीय जिला किन्नौर की भावावैली को जोड़ने वाले काफनू-वांगतू संपर्क मार्ग पर एक कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। हादसे में पिता और पुत्री की मौत हो गई। हादसा इतना भयावह था कि कार सड़क से सीधे नीचे भावा खड्ड में समा गई। हादसे में पिता और पुत्री ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

जानकारी के अनुसार हादसा शनिवार सुबह करीब 6:30 बजे काफनू-वांगतू संपर्क मार्ग पर तिझपती के पास उस समय हुआ जब दोनों मंडी जिला के सुंदरनगर से अपने घर जा रहे थे। इसी बीच कार अनियंत्रित होकर भावा खड्ड में समा गई। हादसे में कार में सवार शांगो निवासी श्याम सिंह और उनकी बेटी कामिनी अकाल मौत का ग्रास बन गए।

हादसे की सूचना मिलते ही एसएचओ भावानगर राजेंद्र तनवर और चौकी प्रभारी कटगांव श्याम चंद टीम के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस, होमगार्ड जवान और स्थानीय लोगों ने कड़ी मशक्कत के बाद खड्ड से शवों को निकाला। दोनों शवों का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया गया है। एसएचओ भावानगर राजेंद्र तनवर ने बताया कि पुलिस को हादसे की सूचना 1200 नंबर पर मिली थी। पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्जकर हादसे के कारणों की छानबीन शुरू कर दी है।

घर से तीन किलोमीटर दूरी पर हुआ हादसा

शनिवार सुबह पेश आए हादसे ने परिवार को उम्र भर के लिए गहरे जख्म दे दिए हैं। बताया जा रहा है कि दोनों सुंदरनगर से किन्नौर जिले के शांगो अपने गांव के लिए लौट रहे थे। मगर दोनों गांव से मात्र तीन किलोमीटर पीछे हादसे का शिकार हो गए। उन्हें क्या मालूम था कि घर से कुछ दूरी पर ही मौत उनका इंतजार कर रही है। हादसे की सूचना मिलते ही शांगो गांव गमगीन हो गया। यहां के लोगों के चेहरे पर श्याम और उनकी बेटी कामिनी के सड़क हादसे में जान गंवाने का दर्द साफ तौर पर दिखाई दे रहा है। क्षेत्र में मातम का माहौल बना हुआ है।