Career Tips: फिटनेस में है रुचि तो न्यूट्रिशन और डायटेटिक्स में बनाएं करियर, मिलती है अच्छी सैलरी | Career Tips interested in fitness then make a career in nutrition and dietetics

हेल्थ सेक्टर में करियर की डिमांड काफी ज्यादा बढ़ी है. ऐसे में जो फिटनेस और मेडिकल के क्षेत्र में रुचि रखते हैं, वो न्यूट्रिशन और डायटेटिक्स (Nutrition and Dietetics) कोर्स कर सकते हैं.

TV9 Hindi

  • TV9 Hindi
  • Publish Date – 4:15 pm, Mon, 6 September 21Edited By: रवि मल्लिक
    Follow us – google news

1/6

कोरोना काल में सही हेल्थ को लेकर लोग काफी जागरूक हुए हैं. बॉडी की इम्युनिटी स्ट्रांग करने के लिए खाने-पीने का ख्याल रखने के साथ-साथ अब योग और जिम की ओर भी रुचि बढ़ी है. यही वजह है कि हेल्थ सेक्टर (Career in Health Sector) में अब करियर की डिमांड भी काफी ज्यादा बढ़ी है. ऐसे में जो फिटनेस और मेडिकल के क्षेत्र में रुचि रखते हैं, वो न्यूट्रिशन और डायटेटिक्स (Nutrition and Dietetics) कोर्स कर सकते हैं.

कोरोना काल में सही हेल्थ को लेकर लोग काफी जागरूक हुए हैं. बॉडी की इम्युनिटी स्ट्रांग करने के लिए खाने-पीने का ख्याल रखने के साथ-साथ अब योग और जिम की ओर भी रुचि बढ़ी है. यही वजह है कि हेल्थ सेक्टर (Career in Health Sector) में अब करियर की डिमांड भी काफी ज्यादा बढ़ी है. ऐसे में जो फिटनेस और मेडिकल के क्षेत्र में रुचि रखते हैं, वो न्यूट्रिशन और डायटेटिक्स (Nutrition and Dietetics) कोर्स कर सकते हैं.

2/6

न्यूट्रिशन और डायटेटिक्स में करियर- एक न्यूट्रिशन एक्सपर्ट या डाइटिशियन डायटेटिक्स, फूड और न्यूट्रिशन, क्लिनिकल न्यूट्रिशन और पब्लिक हेल्थ न्यूट्रिशन में ग्रेजुएशन की डिग्री के साथ अपना करियर शुरू कर सकता है. इस क्षेत्र में बीएससी के रूप में बहुत सारे अवसर हैं. न्यूट्रिशन और डायटेटिक्स का दायरा विभिन्न उद्योगों और क्षेत्रों में फैला हुआ है. 12वीं के बाद डाइटिशियन कोर्स करने का विकल्प मिल जाता है.

न्यूट्रिशन और डायटेटिक्स में करियर- एक न्यूट्रिशन एक्सपर्ट या डाइटिशियन डायटेटिक्स, फूड और न्यूट्रिशन, क्लिनिकल न्यूट्रिशन और पब्लिक हेल्थ न्यूट्रिशन में ग्रेजुएशन की डिग्री के साथ अपना करियर शुरू कर सकता है. इस क्षेत्र में बीएससी के रूप में बहुत सारे अवसर हैं. न्यूट्रिशन और डायटेटिक्स का दायरा विभिन्न उद्योगों और क्षेत्रों में फैला हुआ है. 12वीं के बाद डाइटिशियन कोर्स करने का विकल्प मिल जाता है.

3/6

रोजगार की संभावनाएं- इस फील्ड में सरकारी और प्राइवेट दोनों तरह के जॉब ऑप्शन मौजूद हैं. हेल्थ सेंटर, स्कूल, हॉस्पिटल, स्पोर्ट्स क्लब, एनजीओ, जिम में रोजगार के मौके मिलेंगे. इसके अलावा हॉस्पिटैलिटी सेक्टर में भी इस प्रोफेशन से संबंधित लोगों को नौकरी दी जाती है. वहीं, कई कॉर्पोरेट कंपनियां भी अपने कर्मचारियों के सेहत और खान-पान का ख्याल रखने के लिए इस प्रोफेशन वाले लोगों को हायर करते हैं.

रोजगार की संभावनाएं- इस फील्ड में सरकारी और प्राइवेट दोनों तरह के जॉब ऑप्शन मौजूद हैं. हेल्थ सेंटर, स्कूल, हॉस्पिटल, स्पोर्ट्स क्लब, एनजीओ, जिम में रोजगार के मौके मिलेंगे. इसके अलावा हॉस्पिटैलिटी सेक्टर में भी इस प्रोफेशन से संबंधित लोगों को नौकरी दी जाती है. वहीं, कई कॉर्पोरेट कंपनियां भी अपने कर्मचारियों के सेहत और खान-पान का ख्याल रखने के लिए इस प्रोफेशन वाले लोगों को हायर करते हैं.

4/6

सैलरी डिटेल्स- यह एक आकर्षक और अच्छी सैलरी वाली नौकरी है. भारत में एक आहार विशेषज्ञ का वेतन काफी अधिक होता है. न्यूट्रिशियनिस्ट एक क्लाइंट या पेशेंट से एक बार का कंसल्टेशन चार्ज कम से कम 6,680 रुपए से 10,000 रुपए तक लेते हैं. इसके अलावा, हेल्थ कोच 20,635 रुपए से 1,04,805 रुपए तक प्रति महीने कमाते हैं.

सैलरी डिटेल्स- यह एक आकर्षक और अच्छी सैलरी वाली नौकरी है. भारत में एक आहार विशेषज्ञ का वेतन काफी अधिक होता है. न्यूट्रिशियनिस्ट एक क्लाइंट या पेशेंट से एक बार का कंसल्टेशन चार्ज कम से कम 6,680 रुपए से 10,000 रुपए तक लेते हैं. इसके अलावा, हेल्थ कोच 20,635 रुपए से 1,04,805 रुपए तक प्रति महीने कमाते हैं.

5/6

इन प्रोफेशन का करें चुनाव- न्यूट्रिशन और डायटेटिक्स में करियर के लिए इन प्रोफेसनल्स को बहुत ही अच्छी सैलरी मिलती है. सर्टिफाइड न्यूट्रिशन स्पेशलिस्ट (Certified Nutrition Specialist), क्लिनिकल डाइटिशियन (Clinical Dietician), डायटेटिक टेक्नीशियन (Dietetic Technicians), हेल्थ कोच (Health Coach), हेल्थ एडुकेटर एंड कम्युनिटी हेल्थ वर्कर (Health Educators and Community Health Workers), होलिस्टिक न्यूटिशियनिस्ट (Holistic Nutritionist),  लाइसेंस्ड न्यूट्रिशियनिस्ट (Licensed Nutritionists), न्यूट्रिशन स्पेशिलिटिज (Nutrition Specialties),  रजिस्ट्रर्ड डायटिशियन (Registered Dieticians).

इन प्रोफेशन का करें चुनाव- न्यूट्रिशन और डायटेटिक्स में करियर के लिए इन प्रोफेसनल्स को बहुत ही अच्छी सैलरी मिलती है. सर्टिफाइड न्यूट्रिशन स्पेशलिस्ट (Certified Nutrition Specialist), क्लिनिकल डाइटिशियन (Clinical Dietician), डायटेटिक टेक्नीशियन (Dietetic Technicians), हेल्थ कोच (Health Coach), हेल्थ एडुकेटर एंड कम्युनिटी हेल्थ वर्कर (Health Educators and Community Health Workers), होलिस्टिक न्यूटिशियनिस्ट (Holistic Nutritionist), लाइसेंस्ड न्यूट्रिशियनिस्ट (Licensed Nutritionists), न्यूट्रिशन स्पेशिलिटिज (Nutrition Specialties), रजिस्ट्रर्ड डायटिशियन (Registered Dieticians).

6/6

इन इंस्टीट्यूट्स से कर सकते हैं- यह कोर्स कलकत्ता यूनिवर्सिटी, दिल्ली यूनिवर्सिटी,  सेंट्रल फूड टेक्नोलॉजिस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट मैसूर, इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च, नई दिल्ली, पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, पंजाब, इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी जैसे संस्थान से कर सकते हैं.

इन इंस्टीट्यूट्स से कर सकते हैं- यह कोर्स कलकत्ता यूनिवर्सिटी, दिल्ली यूनिवर्सिटी, सेंट्रल फूड टेक्नोलॉजिस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट मैसूर, इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च, नई दिल्ली, पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, पंजाब, इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी जैसे संस्थान से कर सकते हैं.