Crime – गड्ढे में दो डंपर फंसने से चार घंटे लगा जाम

ख़बर सुनें

हसनगंज। ओवरलोडिंग राहगीरों के लिए मुश्किल का सबब बन गई है। जिम्मेदारों को ओवरलोड वाहन दिखते नहीं हैं। 15 दिन में चौथी बार गुरुवार को दो ओवरलोड वाहनों के सड़क के गड्ढे में फंसने से जाम लग गया। चार घंटे बाद क्रेन की मदद से फंसे डंपरों को बाहर निकलवाने के बाद यातायात सामान्य हो सका।
लखनापुर मार्ग पर खडे़हरा गांव के बाहर मौरंग से लदे दो ओवरलोड डंपर गुुरुवार रात दो बजे गड्ढे में फंस गए। चालकों ने सुबह 8 बजे तक डंपर निकालने का प्रयास किया लेकिन सफलता नहीं मिल सकी। वाहनों के गड्ढे में फंसने से सुबह 8 बजे के बाद खनिज पदार्थ लेकर जा रहे कई वाहन जाम में फंस गए। राहगीरों का सड़क से निकलना मुश्किल हो गया। चार किमी दूर तक लगे जाम को खुलवाने में पुलिस ने पसीना छोड़ दिया। फंसे डंपरों को क्रेन की मदद से बाहर निकाला गया, तब कही जाकर दोपहर 12 बजे जाम खुल सका। स्थानीय लोगों के अनुसार रोजाना दिनभर ओवरलोड वाहन दौड़ने से कई किमी तक सड़क गड्ढे में तब्दील हो गई है। अजगैन क्रासिंग के पास भी बड़े-बड़े गड्ढे होने से यहां वाहन फंसकर जाम का सबब बनते हैं। लोगों के अनुसार 15 दिन के अंतराल में चौथी बार ओवरलोड वाहनों के गड्ढे में फंसकर खराब होने से जाम लगा है। एआरटीओ प्रवर्तन अरविंद सिंह ने बताया कि ओवरलोडिंग को रोकने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएगी।

हसनगंज। ओवरलोडिंग राहगीरों के लिए मुश्किल का सबब बन गई है। जिम्मेदारों को ओवरलोड वाहन दिखते नहीं हैं। 15 दिन में चौथी बार गुरुवार को दो ओवरलोड वाहनों के सड़क के गड्ढे में फंसने से जाम लग गया। चार घंटे बाद क्रेन की मदद से फंसे डंपरों को बाहर निकलवाने के बाद यातायात सामान्य हो सका।

लखनापुर मार्ग पर खडे़हरा गांव के बाहर मौरंग से लदे दो ओवरलोड डंपर गुुरुवार रात दो बजे गड्ढे में फंस गए। चालकों ने सुबह 8 बजे तक डंपर निकालने का प्रयास किया लेकिन सफलता नहीं मिल सकी। वाहनों के गड्ढे में फंसने से सुबह 8 बजे के बाद खनिज पदार्थ लेकर जा रहे कई वाहन जाम में फंस गए। राहगीरों का सड़क से निकलना मुश्किल हो गया। चार किमी दूर तक लगे जाम को खुलवाने में पुलिस ने पसीना छोड़ दिया। फंसे डंपरों को क्रेन की मदद से बाहर निकाला गया, तब कही जाकर दोपहर 12 बजे जाम खुल सका। स्थानीय लोगों के अनुसार रोजाना दिनभर ओवरलोड वाहन दौड़ने से कई किमी तक सड़क गड्ढे में तब्दील हो गई है। अजगैन क्रासिंग के पास भी बड़े-बड़े गड्ढे होने से यहां वाहन फंसकर जाम का सबब बनते हैं। लोगों के अनुसार 15 दिन के अंतराल में चौथी बार ओवरलोड वाहनों के गड्ढे में फंसकर खराब होने से जाम लगा है। एआरटीओ प्रवर्तन अरविंद सिंह ने बताया कि ओवरलोडिंग को रोकने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएगी।