Cultural – नारद मोह भंग, वेदवती-रावण प्रसंग से रामलीला का आगाज

ख़बर सुनें

जम्मू। पहले नवरात्र के साथ शहर में रामलीला का मंचन शुरू हो गया है। सैनिक कॉलोनी में रामलीला मंचन के अलावा श्री रामलीला क्लब सामाजिक एवं सांस्कृतिक संस्था सैनिक कॉलोनी की ओर से मंचन किया जा रहा है।
रामलीला मंचन के पहले दिन भगवान राम के बाल स्वरूप सहित उससे जुड़े विभिन्न प्रसंगों का मंचन किया गया। इस दौरान कलाकारों ने पारंपरिक वेशभूषा में अपने अभिनय से लोगों का दिल जीत लिया।
रात आठ बजे रामलीला का मंचन शुरू हुआ, जिसमें नारद मोह और वेदवती-रावण प्रसंगों का मंचन किया गया। इसमें दिखाया कि देव ऋषि नारद को अपने ज्ञान और भक्ति का घमंड हो जाता है। इसे दूर करने के लिए भगवान विष्णु उनकी परीक्षा लेते हैं। इसके बाद वेदवती रावण के प्रसंग का मंचन किया गया।
नारद मोह के प्रसंग में नारद का किरदार राहुल चंद, रंभा का अनुज का किरदार निभाया। वहीं वेदवती-रावण के प्रसंग में वेदवती का किरदार अभिषेक शर्मा और रावण का राजेंद्र सिंह ने निभाया।
दीवान मंदिर में रामलीला आज से
शहर के परेड स्थित दीवान मंदिर में रामलीला का मंचन आज शुरू होगी। सनातन धर्म नाटक समाज की ओर से रामलीला का मंचन किया जाएगा। वीरवार को कलाकारों ने रिहर्सल में कमियों को दूर किया। वीरवार को कलाकारों ने हर प्रसंग का मंचन किया। सनातन धर्म नाटक समाज के महासचिव सतपाल ने कहा कि हमने अपनी तैयारियां कर ली हैं। शुक्रवार से मंचन शुरू कर रहे हैं। रामलीला देखने आने वाले लोगों को कोविड एसओपी का पालन करना होगा।
बाग-ए-बाहु से महामाया मंदिर तक निकाली शोभायात्रा
जम्मू। नवरात्र पर बावे वाली माता मंदिर से शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा बाग-ए-बाहु इलाकों के विभिन्न स्थानों से होते हुए महामाया मंदिर तक गई। इसमें लोगों ने भजन-कीर्तन कर मां भगवती की भेंटें गाईं और मां का आशीर्वाद प्राप्त किया। शोभायात्रा में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रमन भल्ला भी शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि इस तरह के धार्मिक कार्यक्रम लोगों के बीच एकता का भाव बढ़ाती है। उन्होंने उप-राज्यपाल प्रशासन से बावे वाली माता मंदिर में भक्तों के लिए सुविधा बढ़ाने की मांग की। ब्यूरो

जम्मू। पहले नवरात्र के साथ शहर में रामलीला का मंचन शुरू हो गया है। सैनिक कॉलोनी में रामलीला मंचन के अलावा श्री रामलीला क्लब सामाजिक एवं सांस्कृतिक संस्था सैनिक कॉलोनी की ओर से मंचन किया जा रहा है।

रामलीला मंचन के पहले दिन भगवान राम के बाल स्वरूप सहित उससे जुड़े विभिन्न प्रसंगों का मंचन किया गया। इस दौरान कलाकारों ने पारंपरिक वेशभूषा में अपने अभिनय से लोगों का दिल जीत लिया।

रात आठ बजे रामलीला का मंचन शुरू हुआ, जिसमें नारद मोह और वेदवती-रावण प्रसंगों का मंचन किया गया। इसमें दिखाया कि देव ऋषि नारद को अपने ज्ञान और भक्ति का घमंड हो जाता है। इसे दूर करने के लिए भगवान विष्णु उनकी परीक्षा लेते हैं। इसके बाद वेदवती रावण के प्रसंग का मंचन किया गया।

नारद मोह के प्रसंग में नारद का किरदार राहुल चंद, रंभा का अनुज का किरदार निभाया। वहीं वेदवती-रावण के प्रसंग में वेदवती का किरदार अभिषेक शर्मा और रावण का राजेंद्र सिंह ने निभाया।

दीवान मंदिर में रामलीला आज से

शहर के परेड स्थित दीवान मंदिर में रामलीला का मंचन आज शुरू होगी। सनातन धर्म नाटक समाज की ओर से रामलीला का मंचन किया जाएगा। वीरवार को कलाकारों ने रिहर्सल में कमियों को दूर किया। वीरवार को कलाकारों ने हर प्रसंग का मंचन किया। सनातन धर्म नाटक समाज के महासचिव सतपाल ने कहा कि हमने अपनी तैयारियां कर ली हैं। शुक्रवार से मंचन शुरू कर रहे हैं। रामलीला देखने आने वाले लोगों को कोविड एसओपी का पालन करना होगा।

बाग-ए-बाहु से महामाया मंदिर तक निकाली शोभायात्रा

जम्मू। नवरात्र पर बावे वाली माता मंदिर से शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा बाग-ए-बाहु इलाकों के विभिन्न स्थानों से होते हुए महामाया मंदिर तक गई। इसमें लोगों ने भजन-कीर्तन कर मां भगवती की भेंटें गाईं और मां का आशीर्वाद प्राप्त किया। शोभायात्रा में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रमन भल्ला भी शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि इस तरह के धार्मिक कार्यक्रम लोगों के बीच एकता का भाव बढ़ाती है। उन्होंने उप-राज्यपाल प्रशासन से बावे वाली माता मंदिर में भक्तों के लिए सुविधा बढ़ाने की मांग की। ब्यूरो