Junior World Cup Championship: India Tops Medal Tally With Six Gold Models, Manu Bhaker Has Three Gold Medals

Junior World Cup Championship: मनु भाकर की अगुवाई में भारत ने दांव पर लगे छह गोल्ड मेडलों में से चार गोल्ड मेडल जीतकर आईएसएसएफ जूनियर विश्व चैंपियनशिप में रविवार कोमेडल तालिका में शीर्ष स्थान हासिल कर लिया. भारत ने 10 मीटर एयर पिस्टल की स्पर्धाओं में क्लीन स्वीप किया. इनमें मिश्रित, महिला एवं पुरुष टीम चैंपियनशिप शामिल हैं. इसके अलावा भारत ने पुरुषों की 10 मीटर राइफल टीम स्पर्धा में भी गोल्ड मेडल जीता. भारत के नाम पर अब छह स्वर्ण, छह रजत और दो कांस्यमेडल दर्ज हैं. 

अमेरिका चार स्वर्ण, चार रजत और दो कांस्यमेडल लेकर दूसरे स्थान पर है. मुन भाकर ने दिन में दो गोल्ड मेडल जीते. इस तरह से चैंपियनशिप में उनके गोल्ड मेडलों की संख्या तीन हो गई है. उन्होंने सरबजोत सिंह के साथ मिलकर मिश्रित टीम स्पर्धा क स्वर्ण जीतने के बाद रिदम सांगवान और शिखा नारवाल के साथ मिलकर 10 मीटर एयर पिस्टल महिला टीम स्पर्धा में सोने का तमगा जीता. भारत ने गोल्ड मेडल के मुकाबले में बेलारूस को 16-12 से हराया. नवीन, सरबजोत सिंह और शिव नारवाल की पुरुष टीम ने भी बेलारूस को 16-14 से पराजित करके सोने का तमगा हासिल किया. 

इससे पहले पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल टीम ने गोल्ड मेडल जीता था. महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल टीम स्पर्धा में भारत को सिल्वर मेडल मिला. हंगरी ने इस स्पर्धा का गोल्ड मेडल जीता. महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल टीम ने इससे पहले क्वालीफिकेशन क शुरूआती दौर में 180 निशाने से 1722 अंक के साथ शीर्ष पर थी. टीम दूसरे दौर में भी 569 अंक के साथ शीर्ष पर रही. फाइनल में उसे बेलारूस से टक्कर मिली, लेकिन भारतीय निशानेबाजों ने मैच अपने नाम कर लिया. 

पुरूषों के 10 मीटर पिस्टल टीम स्पर्धा में भी भारतीय निशानेबाज बेलारूस की चुनौती से पार पाने में सफल रहे. महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल टीम स्पर्धा में भारत की निशा कंवर, जीना खिट्टा और आत्मिका गुप्ता शुरुआती क्वालीफिकेशन दौर में शीर्ष पर रहीं, लेकिन दूसरे दौर में हंगरी की एज्टर मेजरोस, एज्टर डेन्स और ली होर्वथ से पिछड़ कर दूसरे स्थान पर रहीं. हंगरी की टीम फाइनल में भी भारत से श्रेष्ठ साबित हुई. भारतीय टीम को सिल्वर मेडल के साथ संतोष करना पड़ा. आत्मिका गुप्ता ने राजप्रीत सिंह के साथ मिलकर 10 मीटर एयर राइफल में मिश्रित टीम स्पर्धा का सिल्वर मेडल जीता. आत्मिका इस तरह से दो रजत जबकि राजप्रीत एक स्वर्ण और एक सिल्वर मेडल जीतने में सफल रहे.