noida police: Noida crime news: इंजिनियर, आर्किटेक्ट और धर्म कांटा मालिक….नोएडा में नहीं थम रहीं वारदातें, अब जीएम को कार में अगवाकर लूट – criminals looted company gm after kidnapping him in noida

हाइलाइट्स

  • बंधक बनाकर दो घंटे तक शहर में घुमाया, एटीएम से निकाले कैश
  • ग्रेनो के अपने घर से रोज कार से दिल्ली स्थित ऑफिस जाते थे जीएम
  • जाम की सूचना पर मेट्रो से जाने के लिए ऑटो का इंतजार कर रहे थे
  • लूटपाट का विरोध करने पर बदमाशों ने पेचकस से कई जगह मारा
  • बदमाशों के पास स्वाइप मशीन थी, लेकिन नहीं हो पाया ट्रांजेक्टशन

नोएडा
मोबाइल कंपनी के इंजिनियर, आर्किटेक्ट और धर्म कांटा मालिक से लूटपाट करने वालों का पुलिस सुराग भी नहीं लगा पाई है कि ग्रेटर नोएडा में बदमाशों ने एक और बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। ऑफिस जाने के लिए गुरुवार को रायन गोलचक्कर पर ऑटो का इंतजार कर रहे कंपनी के जीएम को लिफ्ट के बहाने बदमाशों ने कार में खींचकर अगवा कर लिया।

करीब 2 घंटे तक बंधक बनाने के दौरान उनके एटीएम से 20 हजार रुपये निकलवाए। पर्स से नकदी लूट ली। विरोध करने पर जीएम को पेचकस मारकर घायल कर दिया। जीएम के शरीर पर मारपीट और 10 से अधिक पेचकस से वार करने के निशान हैं। शिकायत के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

लिफ्ट के बहाने कार में खींचा
बीटा-1 में रहने वाले मृगेंद्र कुमार कटारिया (67) दिल्ली स्थित एक कंपनी में जीएम हैं। मृगेंद्र रोजाना कार से ऑफिस जाते हैं। गुरुवार को जाम लगा होने की जानकारी मिलने पर वह मेट्रो से ऑफिस जाने के लिए घर से निकले। वह ऑटो के इंतजार में रायन गोलचक्कर के पास खड़े थे। उसी दौरान एक कार सवार 4 बदमाश आए और जीएम को लिफ्ट देने के बहाने गाड़ी में खींच लिया।

चीखने पर दबाया मुंह
बदमाशों ने पहले उनके पर्स निकाला जिससे 12 सौ रुपये थे उसे ले लिया। बदमाशों ने पर्स में रखा एटीएम कार्ड देखा और उसका पिन पूछने लगे। मृगेंद्र कुमार ने पिन बताने से इनकार किया तो बदमाशों ने पेचकस से उनके सीने और हाथ पर वार शुरू कर दिया। दर्द से चीखने चिल्लाने पर बदमाशों ने उनका मुंह दबा लिया।

दो बार में निकाले 20,000 रुपये
बदमाश उनको लेकर कमर्शल बेल्ट पहुंचे। यहां एक बदमाश ने उतरकर एटीएम से दो बार में 20 हजार रुपये निकाले। उसके बाद पीड़ित को डॉमिनोज गोल चक्कर से ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी वाले रोड पर लेकर गए। यहां से सूरजपुर कोतवाली और बीटा-2 कोतवाली एरिया के सेक्टरों के आसपास घुमाते रहे। कई पीसीआर रास्ते में खड़ी दिखी, लेकिन वह आवाज तक नहीं लगा सके।

पुलिसवालों ने भी नहीं रोका
यहां तक की पुलिसकर्मियों ने भी गाड़ी को एक बार भी रोकने का प्रयास नहीं किया। दो घंटे तक बंधक बनाकर घुमाने के बाद बदमाश जीएम को सिल्वर सिटी सोसायटी के पास छोड़ कर फरार हो गए। पीड़ित के मुताबिक बदमाशों के पास स्वाइप मशीन भी थी। कई बार स्वाइप मशीन से कार्ड को स्वाइप किया, लेकिन वह चल नहीं सके ।

तीन टीमों को घटना के पर्दाफाश में लगाया गया है। कुछ अहम सुराग हाथ लगे है। जल्द ही घटना का पर्दाफाश किया जाएगा।

अभिषेक, डीसीपी ग्रेटर नोएडा

लूट का केस चोरी और ठगी में होता है दर्ज
पेचकस गिरोह पिछले छह महीने से शहर में वारदात को अंजाम दे रहा है। पुलिस तमाम लूट की घटनाओं को चोरी और ठगी समेत अन्य धाराओं में दर्ज करती है। इससे बदमाश पकड़े जाने के बाद जल्द ही जेल से छूटकर बाहर आ जाते हैं और दोबारा अपराध करने लगते हैं। पुलिस सिर्फ क्राइम का ग्राफ कम दिखाने के चक्कर में लूट की धाराओं में केस दर्ज नहीं करती है।

परीचौकी चौकी से महज 100 मीटर की दूरी पर बाइक सवार बदमाशों ने ऑटो सवार इंजीनियर से लूटपाट की थी। विरोध करने पर खींचकर सड़क पर गिरा दिया था।

थम नहीं रही वारदात की रफ्तार
-25 सितंबर : पी थ्री सेक्टर में बर्तन साफ करने का पाउडर बेचने के बहाने घर में घुसे 2 बदमाश 4 साल के बच्चे की गर्दन पर चाकू रखकर इंजीनियर की पत्नी से सोने के कुंडल व चेन लूट कर भागे।
-15 सितंबर : को ग्रेटर नोएडा के सेक्टर गामा-2 गेट के पास बाइक सवार बदमाश ने प्रदीप नाम के युवक से चेन लूट कर फरार हो गए। पीड़ित ने मामले की शिकायत पुलिस से की है।
-2 सितंबर : को जीटी रोड स्थित टोल प्लाजा के पास लिफ्ट लेने के बहाने 2 बदमाशों ने इको वेन चालक उमाशंकर निवासी बदायूं को बंधक बनाकर वेन व 4 हजार रुपए लूट लिए। विरोध करने पर बदमाशों ने चालक पर चाकू से हमला भी किया।
-6 सितंबर : को परीचौक से रामवीर व उनकी पत्नी निवासी मकनपुर को लिफ्ट देने के बाद कार सवार बदमाशों ने हथियार के बल पर 2 लाख रुपए और कानों के टॉप्स और सोने की चेन लूट लिए।