Religion Conversion in UP The strings of change of religion associated with Amroha Many people may be questioned

Religion Conversion in UP अमरोहा के एक मुहल्ला में रहने वाले शिक्षक द्वारा दूसरे धर्म की शिक्षिका से शादी करने का मामला भी चर्चा में है। खुफिया एजेंसी द्वारा गोपनीय रूप से इस मामले की जांच भी की जा रही है।

मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। Religion Conversion in UP : मतातंरण के मामले में अमरोहा का नाम प्रकाश में आने के बाद यहां कई लोगों पर खुफिया एजेंसियों की नजरें टिक गईं हैं। अमरोहा में सरफराज के करीबियों से भी पूछताछ की जा सकती है। इसके अलावा नगर में शिक्षक द्वारा दूसरे धर्म की शिक्षिका युवती से शादी किए जाने का मामला भी खासा चर्चा में है।

नगर के मुहल्ला दरबारे कलां के मूल निवासी सरफराज की गिरफ्तारी से लोग हैरत में हैं। वह बीते माह ही अमरोहा स्थित अपने घर आया था। लोगों ने बताया कि उस समय मौलाना उमर गौतम व कलीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी का प्रकरण चल रहा था। परंतु सरफराज जाफरी किसी तरह से परेशान नजर नहीं आ रहा था। हालांकि इस गिरफ्तारी के बाद शहर के लोगों में भी हड़कंप मचा है। वहीं एटीएस से जुड़े सूत्रों का कहना है कि अमरोहा के कई लोगों से पूछताछ की जा सकती है। सरफराज के करीबियों पर नजरें लगी हैं। वहीं नगर के एक मुहल्ला में रहने वाले शिक्षक द्वारा दूसरे धर्म की शिक्षिका से शादी करने का मामला भी चर्चा में है। खुफिया एजेंसी द्वारा गोपनीय रूप से इस मामले की जांच भी जा रही है।

​​​​​बछरायूं पुलिस ने मंडी धनौरा में सीसीटीवी कैमरे खंगाले : ई-रिक्शा चालक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के मामले में पुलिस ने स्वजन के आरोपों के बीच शहर में सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली है। मगर, पुलिस को कोई अहम सुराग नहीं मिले हैं। मंडी धनौरा थाना क्षेत्र के गांव मल्हुपुरा निवासी ई रिक्शा चालक रामकुंवर बीते सोमवार को संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गया था। उसकी लाश गजरौला मार्ग पर गांव जोगीपुरा के निकट सड़क किनारे पड़ी हुई मिली थी। मृतक के पुत्र कुलवंत ने ई-रिक्शा लूटने व पिता की हत्या किए जाने का आरोप लगाया था। पुलिस ने मौत के कारण जानने के लिए शव को पीएम के लिए भेजा था। पीएम रिपोर्ट में हादसे से मौत होने की पुष्टि हुई थी। इसके बाद मृतक के स्वजन थाने पहुंचे। उनका कहना था कि उनके पिता रविवार को मंडी धनौरा में गजरौला मार्ग के निकट देखे गए थे। अगर, आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगाले जाएं तो कुछ सुराग पता चल सकता है। इसके बाद पुलिस मंडी धनौरा पहुंची और यहां सीसीटीवी कैमरें खंगाले। कैमरों की जांच के दौरान कुछ खास पुलिस के हाथ नहीं लग पाया।