Religion Conversion UP citizens of fatehpur village convert religion hindu into missionary

फतेहपुर, जेएनएन। Religion Conversion UP जिले में सेवा और मदद की आड़ लेकर हसवा ब्लाक के 25 गांवों में एक मिशनरी संस्था ने करीब दो हजार परिवारों पर मतांतरण का जाल बिछा रखा है। अब तक ढाई सौ परिवार ईसाई मत अपनाकर पूजा पद्धति तक बदल चुके हैं, जो इस खेल का बड़ा सुबूत है।   

ग्रामीणों के मुताबिक, संस्था की दो टीमों में से एक गरीब बच्चों की शिक्षा, स्वास्थ्य को लेकर उन्हें कापी-किताब, बस्ता, मच्छरदानी, दवा आदि देती है। परिवारों को रोजगार से जोडऩे के लिए सिलाई मशीन, भैंस देने के साथ ही अपने मिशन से जोड़कर नौकरी देती है। कोरोना काल में संस्था ने 414 वृद्ध व विधवा महिलाओं में से प्रत्येक को साढ़े तीन हजार की धनराशि उनके बैंक खाते में भेजी। ब्लाक के 25 गांवों में संस्था का सेवा व मदद का यह अभियान पिछले छह साल से चल रहा है। दूसरी टीम प्रार्थना सभा को हथियार बनाकर परिवारों को मतांतरण के लिए प्रेरित करती है। ब्लाक के गांवों में इस काम में 20 से अधिक लोग लगे हैं।  

इन गांवों में चल रहा खेल: हसवा, एकारी, टीसी, मिचकी, छीतमपुर, आकूपुर,  कमालीपुर, उसरैना, भभैचा, करीमपुर, अतरहा, सेमरी, आंबापुर, नरई, कैथाहार, छिछनी, बिलारीमऊ, बिलंदा,लतीरपुर, फरीदपुर, हासिमपुर भेदपुर, असवा वक्सपुर, घूरी बुजुर्ग, टीकर, छीतमपुर, उसरैना व मिचकी। 

दरवाजा बंद कर करते प्रार्थना: छीतमपुर के रामपूजन, भभैचा के संत कुमार तिवारी, टीसी के रामसेनही सिंह आदि ने बताया कि निश्शुल्क सामान बांटने वाली संस्था की गतिविधियों को लेकर शंका है। लाभ पाने वाले परिवारों को बंद कमरे में प्रार्थना सभा में शामिल कराकर ईसाई मत से जुड़े धार्मिक ग्रंथ व फोटो भी घरों पर लगाने के लिए दिए जाते हैं। 

पहले भी कई बार उठी आवाज: मिशन मतांतरण के तहत संस्था चुपचाप यह काम कर रही है। आसपास के लोगों से जानकारी होने पर विश्व ङ्क्षहदू परिषद और बजरंग दल ने कई बार आवाज उठाई। प्रार्थना सभा के नाम पर मतांतरण की शिकायत की गई। दो दिन पहले खागा कस्बे में प्रार्थना सभा आयोजित कर मतांतरण के लिए प्रेरित करने के मामले में शहर के पंकज शिवहरे पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई भी की गई है। विहिप के प्रांत मंत्री वीरेंद्र पांडेय ने कहा कि मतांतरण में लगीं मिशनरियों की सूची प्रशासन को सौंप कर जांच कराई जाएगी। 

जांच कराकर होगी कार्रवाई : साध्वी 

केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री साध्वी निरजंन ज्योति ने कहा कि हसवा ब्लाक में मिशनरियों के लोगों द्वारा नौकरी का लालच देकर मतांतरण कराने की शिकायतें मिल रही हैं। तीन साल पहले टीसी गांव में ऐसी ही शिकायत पर मौके पर जाकर मतांतरण करने वाले परिवारों को गंगाजल से स्नान कराकर व तुलसी दल देकर उनके मत में वापसी कराई थी। पूरे मामले में जांच कराने के निर्देश प्रशासन को दिए हैं। आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई होगी। 

इनका ये है कहना: 

अभी तक ऐसी कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है। एक-दो मामले चर्चा में आए हैं। उनकी जांच कराई जा रही है। जबरन मतांतरण कराने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। – अपूर्वा दुबे, डीएम