Retired Teachers Will Teach In Model Culture Schools – मॉडल संस्कृति स्कूलों में पढ़ाएंगे सेवानिवृत्त शिक्षक

गांव ततारपुर इस्तमुरार स्थित मॉडल संस्कृति स्कूल। संवाद
– फोटो : Rewari

ख़बर सुनें

जिले के राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में काफी समय से रिक्त चल रहे टीजीटी व पीजीटी के पदों पर सेवानिवृत्त शिक्षकों की सेवाएं ली जाएंगी। कोरोना महामारी के चलते स्कूल बंद होने के कारण पहले ऑनलाइन माध्यम से स्कूलों में पढ़ाई कराई जा रही थी। जिसके चलते शिक्षकों की कमी ज्यादा महसूस नहीं हो रही थी, लेकिन अब स्कूलों में सभी कक्षाएं शुरू होने के बाद विद्यालय प्रबंधन के साथ-साथ विद्यार्थियों के सामने परेशानियां आ रही हैं। निदेशालय की ओर से विद्यार्थियों की परेशानी को देखते हुए मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में रिक्त पदों पर सेवानिवृत्त शिक्षकों की सेवाएं लेने के निर्देश दिए गए हैं। इसको लेकर निदेशालय की तरफ से सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को पत्र जारी कर दिए गए हैं।
पांचों स्कूलों में रिक्त हैं विभिन्न विषयों के 14 पद
जिले में पांच राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय हैं, जिसमें राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय ततारपुर इस्तमुरार, गुडियानी, पीथड़ावास, बोड़ियाकमालपुर, गढ़ी बोलनी शामिल हैं। इन सभी विद्यालयों में विभिन्न विषयों के 14 पद रिक्त हैं। पीथड़ावास स्कूल में पीजीटी कॉमर्स, जीव विज्ञान तथा टीजीटी गणित तथा बोड़िया कमालपुर में पीजीटी राजनीतिक शास्त्र व आर्ट एंड क्राफ्ट के पद रिक्त हैं। इसके अलावा ततारपुर इस्तमुरार में पीजीटी अर्थशास्त्र व टीजीटी एसएस तथा गढ़ी बोलनी में टीजीटी गणित व विज्ञान के पद रिक्त हैं। वहीं गुडियानी में पीजीटी जीव विज्ञान, फिजिकल एजुकेशन, संस्कृत, कंप्यूटर व फाइन आर्ट्स के पद रिक्त हैं। इसके चलते विद्यालयों में विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित हो रही है। अब रिक्त पदों पर सेवानिवृत्त शिक्षक मिलने के बाद विद्यार्थियों को राहत मिलेगी।
निदेशालय की तरफ से इस संबंध में हमारे पास पत्र आ गया है। हमने संबंधित स्कूलों के मुखियाओं को आवश्यकतानुसार सेवानिवृत्त शिक्षकों की सेवाएं स्टाप गैप अरेंजमेंट के रूप में लेने के लिए सूचित कर दिया है। – राजेश कुमार, जिला शिक्षा अधिकारी

जिले के राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में काफी समय से रिक्त चल रहे टीजीटी व पीजीटी के पदों पर सेवानिवृत्त शिक्षकों की सेवाएं ली जाएंगी। कोरोना महामारी के चलते स्कूल बंद होने के कारण पहले ऑनलाइन माध्यम से स्कूलों में पढ़ाई कराई जा रही थी। जिसके चलते शिक्षकों की कमी ज्यादा महसूस नहीं हो रही थी, लेकिन अब स्कूलों में सभी कक्षाएं शुरू होने के बाद विद्यालय प्रबंधन के साथ-साथ विद्यार्थियों के सामने परेशानियां आ रही हैं। निदेशालय की ओर से विद्यार्थियों की परेशानी को देखते हुए मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में रिक्त पदों पर सेवानिवृत्त शिक्षकों की सेवाएं लेने के निर्देश दिए गए हैं। इसको लेकर निदेशालय की तरफ से सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को पत्र जारी कर दिए गए हैं।

पांचों स्कूलों में रिक्त हैं विभिन्न विषयों के 14 पद

जिले में पांच राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय हैं, जिसमें राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय ततारपुर इस्तमुरार, गुडियानी, पीथड़ावास, बोड़ियाकमालपुर, गढ़ी बोलनी शामिल हैं। इन सभी विद्यालयों में विभिन्न विषयों के 14 पद रिक्त हैं। पीथड़ावास स्कूल में पीजीटी कॉमर्स, जीव विज्ञान तथा टीजीटी गणित तथा बोड़िया कमालपुर में पीजीटी राजनीतिक शास्त्र व आर्ट एंड क्राफ्ट के पद रिक्त हैं। इसके अलावा ततारपुर इस्तमुरार में पीजीटी अर्थशास्त्र व टीजीटी एसएस तथा गढ़ी बोलनी में टीजीटी गणित व विज्ञान के पद रिक्त हैं। वहीं गुडियानी में पीजीटी जीव विज्ञान, फिजिकल एजुकेशन, संस्कृत, कंप्यूटर व फाइन आर्ट्स के पद रिक्त हैं। इसके चलते विद्यालयों में विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित हो रही है। अब रिक्त पदों पर सेवानिवृत्त शिक्षक मिलने के बाद विद्यार्थियों को राहत मिलेगी।

निदेशालय की तरफ से इस संबंध में हमारे पास पत्र आ गया है। हमने संबंधित स्कूलों के मुखियाओं को आवश्यकतानुसार सेवानिवृत्त शिक्षकों की सेवाएं स्टाप गैप अरेंजमेंट के रूप में लेने के लिए सूचित कर दिया है। – राजेश कुमार, जिला शिक्षा अधिकारी