T20 World Cup: PCB CEO Ramiz Raja Reveals His Countrys Investor Such A Big Offer For Pakistan Team For India-Pakistan Match On October 24th

खास बातें

  • महामुकाबला है 24 अक्टूबर को
  • भारत में बनेगी दिवाली से पहले दिवाली
  • अक्टूबर 17 से शुरू होगा रहा है महायुद्ध

T20 World Cup 2021: करोड़ों भारतीय दिवाली से पहले एक और दिवाली मनाने के मूड में हैं और वह दिन है 24 अक्टूबर का, जिस दिन चिर-प्रतिद्वंद्वी भारत और पाकिस्तान कुछ ही दिन बाद शुरू होने जा रहे टी20 विश्व कप (T20 World Cup) में एक-दूसरे के खिलाफ भिड़ने जा रहे हैं. विश्व कप के इतिहास में पाकिस्तान आज तक भारत को मात नहीं दे सकता है, लेकिन पाकिस्तान के नए सीईओ रमीज राजा और पाकिस्तान की दिग्गज कंपनियां सपना पाले हुए हैं. भारत को मात देने का. इसी कड़ी में निवेशक ने राजा को एक बड़ा ऑफऱ दिया है. 

राजा ने एक पाकिस्तानी अखबार से बातचीत में कहा कि पीसीबी को पैसे की बहुत ही ज्यादा दरकार है. उन्होंने हाल ही में सीनेट स्टैंडिंग  कमेटी के साथ हुई बैठक में जोर देते हुए कहा कि पीसीबी को आत्मनिर्भर बनने की जरूरत है क्योंकि  फिलहाल उसे 50 प्रतिशत पैसा आईसीसी से मिल रहा है. और आईसीसी की 90 फीसद फंडिंग भारत से आती है. बैठक में राजा ने कहा कि मुझे डर है कि अगर भारत फंडिंग रोक देता है, तो पीसीबी ध्वस्त हो सकता है क्योंकि पाकिस्तान से आईसीसी को जीरो प्रतिशत फंडिंग होती है. 

 ये भी पढ़ें 
IPL 2021 : जम्मू-कश्मीर के उमरान मलिक ने इस सीजन की सबसे तेज गेंद करके मचाया गदर, लोग बोले- ‘भारत का स्पीड गनत
IPL 2021: केन विलियमसन ने तूफानी थ्रो से मैक्सवेल को किया रन आउट, एक पल में बदल दिया मैच, देखें Video
IPL 2021: क्रिश्चियन ने अपनी ही गेंद पर लिया खतरनाक कैच, देखकर हर्षा भोगले बोले-‘ Best Catch होगा’- Video
IPL में हर्षल पटेल का बड़ा कारनामा, बुमराह का रिकॉर्ड तोड़ बने नंबर वन भारतीय गेंदबाज

इसी मीटिंग में राजा ने कहा कि एक बड़े निवेशक ने मुझसे कहा है कि अगर पाकिस्तान टी20 विश्व कप में भारत को हरा देता है, तो उनका पीसीबी के लिए ब्लैंक चेक तैयार है. राजा ने यह भी कहा कि अगर पीसीबी की वित्तीय स्थिति मजबूत होती है, तो टीमें दौरे से नाम वापस नहीं लेंगी. तो आप देख रहे हैं कि पाकिस्तान ऐसे समय भारत को हराने का दिवा-स्वप्न देख रहा है, जो मौजदा भारत और पाकिस्तान टीम में बहुत ही ज्यादा अंतर हो चला है. खैर दिन में सपने देखने को हक सभी को हो. ऐसे में पाकिस्तान भी अपवाद नहीं है. बहरहाल, 24 अक्टूबर को जरूर उसे दिवा-स्वप्न और हकीकत का अंतर पता चल जाएगा.