T20 World Cup: Yuzvendra Chahal Must Have Been Part Of T20 World Cup Team, Says Former Chief Selector

T20 World Cup: युजवेंद्र चहल को टी20 विश्व कप टीम का हिस्सा होना चाहिए, पूर्व चीफ सेलेक्टर प्रसाद खुलकर  समर्थन में आए

पूर्व चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद कम बोलते हैं, लेकिन पते की बात कहते हैं

खास बातें

  • चहल को टीम में होना चाहिए-प्रसाद
  • पिछले काफी समय से समथर्न कर रहे हैं
  • दूसरे चरण में सुधार किया चहल ने

नयी दिल्ली:

IPL 2021:टीम इंडिया के पिछले चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद का मानना है कि लेग  स्पिनर युजवेंद्र चहल को भारत की टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) टीम में चुना जाना चाहिए था. चहल पिछले कुछ सालों से  भारतीय टीम का अहम हिस्सा रहे हैं. ऐसे में जब उन्हें विश्व कप टीम में नहीं चुना गया, तो सभी को बहुत ही हैरानी हुई थी.  यह सही है कि आईपीएल के पहले चरण में उनकी फॉर्म में थोड़ी गिरावट आयी जरूर, लेकिन दूसरे चरण में उन्होंने साबित किया कि सेलेक्टरों का उन्हें न चुनने का फैसला गलत था. बता दें कि टी20 विश्व कप 17 अक्टूबर से 14 नवंबर के बीच यूएई में खेला जाएगा. 

यह भी पढ़ें

हैरानी की बात यह है कि चयनकर्ताओं ने घोषित टीम में स्पिन विभाग में पांच गेंदबाजों को चुना है, लेकिन इसमें भी चहल को जगह नहीं मिली. यहां तक कि आर. अश्विन भी साल 2017 के  बाद  व्हाइट-बॉल टीम में जगह बनाने में सफल रहे. बहरहाल, एमएसके प्रसाद ने चहल की वकालत करते हुए कहा कि जहां तक विकेट चटकाने की बात है, तो चहल टी20 में हमारे सर्वश्रेष्ठ बॉ़लर हैं. पिछले 3-5 सालों में उसने बहुत ही शानदार प्रदर्शन किया है. सौभाग्यवश या दुर्भाघ्यवश सेलेक्टरों ने सोचा होगा कि उनके और राहुल चाहर के बीच मुकाबला है. 

 ये भी पढ़ें 
ये 3 पेसर पड़ रहे शमी और भुवनेश्वर पर भारी, लेकिन एक को भी टी20 वर्ल्ड कप के रिजर्व में भी जगह नहीं
IPL 2021 में शानदार खेल दिखाने के कारण इन खिलाड़ियों का लगेगा ‘जैकपॉट’, T20 WC में मिल सकता है मौका
स्मृति मंधाना ने जमाया शतक तो साथी खिलाड़ी ने कहा, ‘ओ हसीना जुल्फों वाली’, मंधाना ने ऐसे किया रिएक्ट
भारतीय क्रिकेट में छाने को तैयार ये युवा सितारे, इन खिलाड़ियों से सज सकती है भविष्य की टीम इंडिया

पूर्व चीफ सेलेक्टर बोले कि बेंगलुरु जैसे फ्लैट पिच पर भी चहल ने हमें कभी निराश नहीं किया. और उन्होंने अपने कप्तान विराट को विकेट लेकर दी. प्रसाद ने कहा कि अगर आप डेढ़ साल में चहल का प्रदर्श देखोगे, तो उनके प्रदर्शन में थोड़ी गिरावट आयी है, तो वहीं राहुल चाहर ने मुंबई के लगातार दो खिताब जीतने में अहम भूमिका निभायी है. संभवत: यही बात राहुल के पक्ष में गयी. हालांकि, सभी देश नियम के हिसाब से 10 अक्टूबर तक अपनी मूल टीम में बदलाव कर सकते हैं या सदस्यों की संख्या बढ़ा सकते हैं, लेकिन अब देखने की बात होगी कि बीसीसीआई क्या फैसला लेता है क्योंकि अकेले यहां चहल ही नहीं, बल्कि कई ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने आईपीएल में बेहतर किया है. 

 

VIDEO: रविचंद्रन अश्विन-इयोन मॉर्गन विवाद : क्या अश्विन सचमुच अक्खड़ हैं?