The Miscreant Who Robbed The Car By Kidnapping The Conductor Was Arrested Red Handed – कंडक्टर को अगवा कर कार लूटने वाले बदमाश रंगे हाथ गिरफ्तार

ख़बर सुनें

नई दिल्ली। प्रेम नगर थाना पुलिस ने डीटीसी बस कंडक्टर को अगवा कर उसकी कार लूटने वाले तीन बदमाशों को मौकेे पर ही पकड़ लिया। बदमाशों ने कंडक्टर को जबरदस्ती स्मैक का सेवन करवा दिया था और उसके हाथ पैर बांधकर पिटाई कर रहे थे। इसी दौरान गश्त कर रहे पुलिसकर्मी वहां पहुंच गए और तीनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस ने गिरफ्तार इन बदमाशों के कब्जे से एक पिस्टल, चाकू और लूटी गई कार बरामद कर ली। पुलिस बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच कर रही है।
जिला पुलिस उपायुक्त प्रणव तायल ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों की पहचान कंझावला निवासी सुमित, संदीप और लाडपुर निवासी सोनू कुमार के रूप में हुई है। बुधवार तड़के प्रेम नगर थाने में तैनात सिपाही प्रवीण और सचिन गश्त कर रहे थे। इसी दौरान मुबारकपुर डबास के पास एक एसेंट कार को सड़क के किनारे खड़ी देखकर उन्हें शक हुआ।
खिड़की से अंदर देखने पर एक युवक पीछे की सीट पर लेटा दिखा। उसके हाथ पैर रस्सी से बंधे हैं और तीन युवक उसकी पिटाई कर रहे हैं। पुलिस ने तीनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से तलाशी में पिस्टल और चाकू मिले।
पीड़ित की पहचान कंझावला निवासी विनित मदान के रूप में हुई। वह नशे की हालत में था। होश में आने के बाद उसने बताया कि वह कंझावला डीटीसी बस डिपो में कंडक्टर है। सुबह चार बजे वह शिव चौक कंझावला के पास अपनी एसेंट कार से पहुंचा। इसी दौरान बदमाशों ने पिस्टल के बल पर उससे कार लूट ली। उसे पीछे वाली सीट पर डालकर उससे दो हजार रुपये भी लूट लिए।
उसके बाद बदमाश कार चलाते हुए मुबारकपुर डबास पहुंचे। जहां उन लोगों ने उसे जबरदस्ती स्मैक पिलाई और हाथ पैर बांधकर उसे फेंकने की योजना बना रहे थे। पुलिस ने जांच के बाद बताया कि सुमित पर नौ मामले दर्ज हैं। लूटपाट के एक मामले में वह जमानत पर जेल से बाहर आया है। सोनू पर दो मामले दर्ज हैं।

नई दिल्ली। प्रेम नगर थाना पुलिस ने डीटीसी बस कंडक्टर को अगवा कर उसकी कार लूटने वाले तीन बदमाशों को मौकेे पर ही पकड़ लिया। बदमाशों ने कंडक्टर को जबरदस्ती स्मैक का सेवन करवा दिया था और उसके हाथ पैर बांधकर पिटाई कर रहे थे। इसी दौरान गश्त कर रहे पुलिसकर्मी वहां पहुंच गए और तीनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने गिरफ्तार इन बदमाशों के कब्जे से एक पिस्टल, चाकू और लूटी गई कार बरामद कर ली। पुलिस बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच कर रही है।

जिला पुलिस उपायुक्त प्रणव तायल ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों की पहचान कंझावला निवासी सुमित, संदीप और लाडपुर निवासी सोनू कुमार के रूप में हुई है। बुधवार तड़के प्रेम नगर थाने में तैनात सिपाही प्रवीण और सचिन गश्त कर रहे थे। इसी दौरान मुबारकपुर डबास के पास एक एसेंट कार को सड़क के किनारे खड़ी देखकर उन्हें शक हुआ।

खिड़की से अंदर देखने पर एक युवक पीछे की सीट पर लेटा दिखा। उसके हाथ पैर रस्सी से बंधे हैं और तीन युवक उसकी पिटाई कर रहे हैं। पुलिस ने तीनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से तलाशी में पिस्टल और चाकू मिले।

पीड़ित की पहचान कंझावला निवासी विनित मदान के रूप में हुई। वह नशे की हालत में था। होश में आने के बाद उसने बताया कि वह कंझावला डीटीसी बस डिपो में कंडक्टर है। सुबह चार बजे वह शिव चौक कंझावला के पास अपनी एसेंट कार से पहुंचा। इसी दौरान बदमाशों ने पिस्टल के बल पर उससे कार लूट ली। उसे पीछे वाली सीट पर डालकर उससे दो हजार रुपये भी लूट लिए।

उसके बाद बदमाश कार चलाते हुए मुबारकपुर डबास पहुंचे। जहां उन लोगों ने उसे जबरदस्ती स्मैक पिलाई और हाथ पैर बांधकर उसे फेंकने की योजना बना रहे थे। पुलिस ने जांच के बाद बताया कि सुमित पर नौ मामले दर्ज हैं। लूटपाट के एक मामले में वह जमानत पर जेल से बाहर आया है। सोनू पर दो मामले दर्ज हैं।